Menu

वैदिक प्रेरक के लिए न्यूनतम योग्यता :-

  • वैदिक मन्तव्य व सिद्धान्त (वेद तथा वेदानुकूल आर्ष वाङ्‌मय पर आधारित महर्षि दयानन्द के ग्रंथ में वर्णित) को स्वीकार करने वाला ।
  • वैदिक धर्म के प्रसार के लिए लोगों को जोड़ने की भावना वाला हो ।
  • नियमित कम से कम पाक्षिक हवन करने वाला हो ।
  • प्रतिदिन निराकार ईश्वर की वैदिक उपासना करने वाला हो ।
  • प्रतिदिन प्रातः ५ से ९ बजे के अंदर निष्ठापूर्वक१५ मिनिट समिति के निर्देशानुसार ध्यान- स्वाध्याय आदि के लिए समय लगाने वाला हो ।
  • स्वयं आजीवन निष्ठापूर्वक धर्माचरण में प्रवृत्त रहने व अन्यों को भी प्रवृत्त करने के संकल्प/नियम वाला हो ।
  • मानसिक, वाचनिक, शारीरिक व आर्थिक रूप में वेद-प्रचार-समिति का शुभचिन्तक हो ।
  • पंजीकृत शुल्क ५०/- रुपये राशि प्रदान करने वाला हो ।
  • संबन्धित वेद-प्रचार-समिति शाखा से पूर्व निर्धारित (न्यूनतम वार्षिक १०००/-रुपया) सदस्यता सहयोग राशि नियमित रूप में प्रदान करना ।
  • शाकाहारी हो तथा बीडी, सिगरेट, अफीम, शराब आदि मादक द्रव्यों का सेवन न करने वाला हो ।
  • जुआ, मद्य, मांस, अफीम आदि का व्यवसाय न करने वाला हो ।

(धर्म व संस्कृति की रक्षा के लिए प्रांतीय अध्यक्ष की सहमति से नियम व योग्यता में संशोधन व संवर्धन संभव है ।)