Menu

वैदिक श्रद्धालु के लिए न्यूनतम योग्यता :-

  • बाल वैदिक-जिज्ञासु १२ वर्ष अवस्था तक, किशोर वैदिक-जिज्ञासु १३ से २० वर्ष अवस्था तक तथा युवक वैदिक-जिज्ञासु २१ से अधिक अवस्था वाला हो ।
  • वैदिक मन्तव्य व सिद्धान्त (जो वेद तथा वेदानुकूल आर्ष वाङ्ग्मय पर आधारित महर्षि दयानन्द के ग्रंथ में वर्णित) को जानने-समझने की इच्छा रखने वाला हो ।
  • प्रतिदिन निराकार ईश्वर की वैदिक उपासना करने की इच्छा रखने वाला हो ।
  • प्रतिदिन प्रातः ५ से ९ बजे के अंदर निष्ठापूर्वक१५ मिनिट समिति के निर्देशानुसार ध्यान- स्वाध्याय आदि के लिए समय लगाने वाला हो ।
  • मानसिक, वाचनिक, शारीरिक व आर्थिक रूप में वेद-प्रचार-समिति का शुभचिन्तक हो ।
  • पंजीकृत शुल्क ५०/- रुपये राशि प्रदान करने वाला हो । परिषद् /ट्रस्ट से विशेष लाभ प्राप्त करने के लिए सम्बंधित साधन जैसे प्रतिदिन के मुद्रित सामग्री हेतु अतिरिक्त राशि प्रदान करनी होगी ।
  • जो शाकाहार को अच्छा मानता हो । मांस, मछली, अंडे आदि अभक्ष्य पदार्थ तथा बीडी, सिगरेट, अफीम, शराब आदि मादक द्रव्यों को छोड़ने की इच्छा रखता हो ।

(धर्म व संस्कृति की रक्षा के लिए प्रांतीय अध्यक्ष की सहमति से नियम व योग्यता में संशोधन व संवर्धन संभव है ।)